Home Hindi पुलवामा और कश्मीर पर राहुल गांधी सहित कुछ नेताओं के बयान दुखद...

पुलवामा और कश्मीर पर राहुल गांधी सहित कुछ नेताओं के बयान दुखद : जेपी नड्डा

201
0


बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (फाइल फोटो).

पटना:

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शनिवार को कहा कि सरदार पटेल से प्रेरणा लेते हुए देश को संभालना सरकार की जिम्मेदारी है लेकिन यह दुखद है कि कश्मीर पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का बयान लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान संयुक्त राष्ट्र में जाते हैं और पुलवामा की घटना के बाद देश के ही नेता ही सवाल उठाते हैं. स्वतंत्र भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर यहां प्रदेश भाजपा के बुद्धिजीवि समागम को संबोधित कर रहे नड्डा ने कहा कि सरदार पटेल कांग्रेस पार्टी से थे और उनकी प्रतिमा कांग्रेस को लगानी चाहिए थी.

उन्होंने कहा ‘‘लेकिन सरदार पटेल की एक गगनचुंबी प्रतिमा का निर्माण नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने कराया. लाखों लोग वहां जाकर सरदार पटेल को श्रद्धांजलि देते हैं, लेकिन कांग्रेस के नेता वहां नहीं जाते.” भाजपा अध्यक्ष ने कहा ‘‘ जब आज 31 अक्टूबर को सरदार पटेल की जयंती है तो कांग्रेस के लोग धरना देते हैं. धरना देना ही था तो एक तारीख को देते.” 

नड्डा ने कहा, ‘‘ हम सरदार पटेल से प्रेरणा लेते हैं. इस देश को संभालकर रखना हमारी जिम्मेदारी है. लेकिन दुख होता है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का बयान लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान संयुक्त राष्ट्र में जाते हैं.” उन्होंने कहा ‘‘ पुलवामा की घटना के बाद देश के नेता ही सवाल उठाते हैं और बाद में सबूत मांगते हैं. ये क्या स्थिति आ गई है?” 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा ‘‘ पुलवामा आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने की स्वीकारोक्ति पाकिस्तान के ही मंत्री कर रहे हैं, लेकिन हमारे नेता सबूत मांगते रहे .” उन्होंने कांग्रेस के शशि थरूर और मणिशंकर अय्यर के बयानों का भी उल्लेख किया और कहा कि मोदी का विरोध करते करते कांग्रेस के नेता देश का विरोध करने लगते हैं.

आजादी के बाद भारत के पुनर्निर्माण में सरदार पटेल के योगदान का जिक्र करते हुए नड्डा ने कहा‘‘ सही मायने में भारत को एक करने का काम सरदार पटेल ने किया था और जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के रूप में जो एक समस्या रह गई थी, उसका समाधान नरेन्द्र मोदी ने किया. अब एक देश में एक विधान, एक निशान और एक प्रधान साकार हो गया है.” 

नड्डा ने कहा, ‘‘ नीयत अच्छी रहे, तो नीति अच्छी रहेगी ही. सरदार पटेल की नीयत अच्छी थी, तो उनकी नीतियां अच्छी बनीं. जम्मू कश्मीर के बारे में हमारी नीयत अच्छी थी, तो वहां के लिए अच्छी नीति भी बनी है.” विपक्षी महागठबंधन पर निशाना साधते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कुछ लोग बिहार का विकास रोकना चाहते हैं, वे जंगलराज चाहते हैं. 

तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरी देने के वादे पर तंज करते हुए नड्डा ने कहा कि उनके पिता की सरकार के दौरान कम से कम 20 लाख लोग राज्य से पलायन कर गए और अब राजद नेता 10 लाख नौकरी देने का वादा कर रहे हैं. उन्होंने कहा ‘‘ नरेंद्र मोदी के आने के बाद देश की राजनीति का स्वरूप बदला है और राजद जैसी पार्टी भी आज संकल्पपत्र निकालने लगी हैं… ये बदला हुआ बिहार है. नहीं तो इनका संकल्प पत्र सिर्फ यही होता था- न खाता न बही, जो कहें वही सही.” 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अराजक राजद, विध्वसंकारी भाकपा माले और कांग्रेस से विकास की अपेक्षा नहीं की जा सकती.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here